अनुशासन पर कुछ अनमोल विचार

अनुशासन का मतलब है, किसी काम को सही तरीके से संपादित करना। ऐसा करने में हमें अतिरिक्त मेहनत करने की जरूरत पड़ सकती है, पर यह भी सच है कि मंजिल तक पहुंचने का यही एक रास्ता है। जो अनुशासित रहते हुए अपने काम में अथक परिश्रम करते हैं, सफलता उनको ही नसीब होती है। अनुशासन का पालन करना आपके लिए कई बार कष्टप्रद हो सकता है, पर अंततः वह आपको सफलता की ओर ही ले जाता है।

अनुशासन का पालन करने का अर्थ यह नहीं है कि आप नियमों और तौर-तरीकों के गुलाम हो गए और आपकी आजादी छिन गई। यह सोच गलत है। अगर ट्रेन को पटरी से उतार दें, तो वह आजाद हो जाएगी। लेकिन जरा सोचिए, ऐसे में क्या वह चल पाएगी? अगर इंसान खुद ही अपना ट्रैफिक कानून बनाने लगे, तो फिर ट्रैफिक का क्या हाल होगा, आप इसका सहज ही अनुमान लगा सकते हैं। अनुशासन आजादी में खलल नहीं है, बल्कि नियम-कानून के अनुसार किसी काम को करने की सीख है। इसलिए अनुशासित बनें और लक्ष्य पर निगाह रखें, आपको सफल होने से कोई रोक नहीं सकता।

इसलिए आज हम आपके लिए कुछ अनुशासन के ऊपर आधारित अनमोल विचार लेकर आएं है|

1-अनुशासन का पालन करना बहुत कठिन होता है और बहुत कड़वा होता है

पर इस के बाद मिलने वाला फल बहुत मीठा होता है |

2-अच्छे विद्यालय ही अनुशासन के निर्माता है

सुसंस्कृत परिवार में ही बालक अनुशासन पाता  है

अनुशासित विद्यार्थी बढ़ते है देश का मान

जो दिखाते है अनुशासन हीनता नहीं पाते है कहीं सम्मान |

3-अनुशासन एक दूरी है मेहनत और मंज़िल की |

4-काम की अधिकता ही नहीं

अनियमता भी इंसान को मार डालती है |

5-एक आदमी ही सोच को जन्म देता है

और वो क्या सोचता है वही वो बनता है |

6-जिसके पास अनुशासन को ग्रहण करने की शक्ति है

वह इंसान अपने जीवन में जो चाहे वह पा सकता है |

7-हम सभी को दो चीजें बर्दाश्त करनी पड़ती हैं,

अनुशासन का कष्ट या पछतावे और मायूसी की पीड़ा|

8-अनुशासन और अभ्यास से ही आत्मविश्वास पैदा होता है|

9-इस बात पर ध्यान दिए बिना कि कोई हमें देख रहा है या नहीं,

किसी काम को सही ढंग से करना मात्र ही अनुशासन है|

10- अनुशासन की सराहना करना एक बात है और अनुशासन के लिए समर्पित होना एक

 अलग बात है|

11- कुछ महवपूर्ण अवसरों पर हम क्या करते हैं वो संभवतः इसी बात पर निर्भर करता है कि

 हम क्या हैं,और हम जो हैं वो पिछले सालों के आत्म अनुशासन का परिणाम है|

12- एक अनुशासित जीवन जीना और उस अनुशासन के परिणाम को इश्वर की इच्छा

मानकर स्वीकार करना ही किसी के पुरुष होने का संकेत देती है|

13-कुछ लोग अनुशासन को उबाऊ काम समझते हैं. मेरे लिए ,

ये एक तरह की सुव्यवस्था  है जो मुझे उड़ने के लिए तैयार करती है|

14-जो व्यक्ति बिना अनुशासन के जीता है, वो बिना सम्मान के मरता है|

15- आप अभी क्या चाहते हैं और आप सबसे ज्यादा क्या चाहते हैं केवल इन दोनों में चुनाव

ही अनुशासन है|

16- जीवन की अधिकतर परिस्थितियाँ तीन मूलभूत चुनावों से उत्पन्न होती हैं: आप कैसा

अनुशासन चुनकर निभा पाते हैं, आप साथ रहने के लिए कैसे लोगों का चुनाव करते हैं और आप

 पालन करने के लिए कैसे नियमों को चुनते हैं|

17- अगर मैं महान बनना चाहता हूँ तो पहले मुझे अपने आप पर विजय पानी होगी…और

इसे ही स्व अनुशासन कहते हैं|

18-आत्म-सम्मान अनुशासन का फल है; अपने आप को मना कर पाने की सामर्थ्य के साथ

ही गरिमा की समझ पैदा होती है|

19- सैनिकों को उनके दुश्मनों से ज्यादा उनके अधिकारीयों से डर होना ही अनुशासन की कला

 है|

20-जिस कार्य को आप न चाहते हुए भी करते हैं, क्यूंकि आप जानते हैं कि वो होना चाहिए,

 ही अनुशासन है|

 

About the author

Asif Khan

Hey, My Name is Asif Khan i'm Blogger by Choice. I write about Health, Fitness, Internet and Tech.

Leave a Comment