बेटी पर अनमोल वचन

बेटी शब्द सुनते ही सबके चेहरे पर ख़ुशी दौड़ जाती है| बेटी जिस घर में होती है उस घर में दुःख कभी नहीं आते| फिर भी पता नहीं आज भी बेटियों के होने पर लोग खुश क्यों?नहीं होते|बेटी तो घर की शोभा है| बेटी 2 परिवारों को जोड़ती हैं| आज मै इन्ही नन्ही परियों की हिंदी शायरी लेकर आई हूँ | मुझे उम्मीद है की वो आपको पसंद आएंगी|

रेशम की तरह नरम सी होती है बेटियां 

औरों का दर्द देख कर रोती है बेटियां| 

बेटा तो एक घर को ही रोशन करे मगर 

दोनों घरों पर नूर लुटाती है बेटियां | | 

दुनिया तो इनको बोझ समझती रही मगर 

पर सबके ग़मों का बोझ उठाती है बेटियां| 

बेटे के पास रह कर भी गाफिल रहे 

रह के भी दूर आँख भिगोती है बेटियां | 

इल्म ओ हुनर में हम भी तो बेटों से कम नहीं 

एहसास हर घडी ये  दिलाती है बेटियां | 

गहराई इनके प्यार की नापेगा क्या कोई 

कोज़े में जैसे दरिया सा मोती हैं  बेटियां | 

जो मर्द  जुल्म करते है वो यह भी  जान ले 

इनके जन्म का  दर्द भी  सहती है बेटियां | 

तो इनमे कोई फर्क न करना कभी माँ 

बेटे अगर है हीरे तो मोती है बेटियां | 

जिस घर में होती है बेटियां 

रौशनी हर पल रहती है वहां 

हरदम सुख ही बरसे उस घर 

मुस्कान बिखेरे बेटियां जहाँ | 

सो जा मेरी प्यारी राज दुलारी 

तुझको सुलाए तेरी माँ 

तु  है  मेरी राजकुमारी 

तुझ पर जान लुटाये तेरी माँ | 

माँ-बाप की दुलारी है बेटियां 

ओस की बूँद है बेटिया

दिल का टुकड़ा है बेटियां

घर की रौनक है बेटियां | 

सच्चा मोती है बेटियां 

माँ का श्रृंगार है बेटियां

पिता का गर्व है बेटियां 

2-2 कुल की लाज है बेटिया  

घर की ताज है बेटियां | 

आ री निंदिया मेरी बिटिया की 

पलको में आ,

आकर उसकी पलको में कोई 

प्यारा सा गीत गुनगुना| 

शान बढ़ाती है बेटियां 

बेटियां मुसकान  देती है 

शक्कर सी मीठी है बेटियां 

बेटियां खुशियों भरी चिट्ठी है | 

मै उम्मीद करती हूँ की आपको ये शायरी पसंद आई होंगी |

दोस्तों बेटियां सबसे प्यारी होती है अपने मा बाप के लिए क्योंकि बेटे तो एक ही घर के फूल होते है पर बेटियां दो घरों को अपने प्यार की खुशबू से महकाती हैं।आजकल हर कोई अपने आप में एक बहुत बड़ा कारण है किसी को प्रेरित करने को बेटी बचाओ बेटी पढाओ ।

About the author

Asif Khan

Hey, My Name is Asif Khan i'm Blogger by Choice. I write about Health, Fitness, Internet and Tech.

Leave a Comment