कड़ी मेहनत करने का फल -Motivational Story

 

दोस्तों एक कंपनी थी जो पोर्टेबल स्कैनर बनाती थी और क्रिस उस कम्पनी में काम करता था | एक दिन उसने अपनी फैमिली की लाइफटाइम इनकम से बहुत सारे स्कैनर खरीद लिए | उसने सोचा था की इससे उसे बहुत ज्यादा प्रॉफिट होगा और उसकी जिंदगी बेहतर हो जायगी | लेकिन हुआ यह की डॉक्टर उसकी महंगी मशीन लेने के बजाए x-ray मशीन लेना पसंद कर रहे थे,क्योंकि यह सस्ती भी थी और अच्छी भी थी |

उसके लिए यह बहुत ही बड़ा झटका था वो खुद ही डॉक्टर के पास और हॉस्पिटल जा जा के स्कैनर बेचता था अगर उसने 1 महीने में 2 स्कैनर नहीं बेचे तो उसके पांच साल के बेटे,पत्नी का रोज़ का खर्चा भी पूरा नहीं हो पायेगा | अब घर चलने के लिए क्रिस की वाइफ को डबल शिफ्ट में काम करना पड़  रहा था ,लेकिन फिर भी पैसे पूरे नहीं पड़ रहे थे क्योंकि तीन चार महीनों से क्रिस ने एक भी स्कैनर नहीं बेचा था|

कर्ज़ा सर पर था और तीन महीनों से कोई रेंट भी नहीं दिया था | ऐसा लगने लगा था की स्कैनर बेचने से की अब कुछ नहीं होगा| फिर क्रिस ने एक दिन एक आदमी को फरारी से उतरते देखा और उससे पूछा की सर आप क्या काम करते हैं उस आदमी ने जवाब दिया की इस सामने वाली बिल्डिंग में मै स्टॉक ब्रोकर हूँ |

कुछ दिनों बाद क्रिस ने भी फैसला कर लिया की वो भी स्टॉक ब्रोकर बनेगा,और उसी दिन उसने उसी जॉब  के लिए अप्लाई कर दिया | एक दिन शाम जब वह अपने घर पहुंचा तो देखा उसकी पत्नी सब कुछ पैक कर रही थी और घर छोड़ कर जा रही थी | क्रिस ने अपनी पत्नी से कहा तुम ऐसे नहीं जा सकती हिम्मत रखो,मै कोशिश तो कर रहा हूँ सब ठीक हो जायेगा | लेकिन उसकी पत्नी नहीं मानी वो डबल शिफ्ट करके थक चुकी थी और जान चुकी थी की क्रिस के साथ अब उसका कोई फ्यूचर नहीं है | क्रिस के काफी कहने पर भी जब वो नहीं मानी तो क्रिस ने रोते  हुए कहा की तुम्हे जाना है तो जाओ | पर मेरा बीटा नहीं जायेगा क्योंकि मै उसके बिना नहीं रह सकता | उसकी पत्नी रट हुए अकेले चली गयी |

क्रिस के तो मानो फिर बुरे दिन खत्म ही नहीं हो रहे थे | अगले दिन क्रिस अपने घर को पेंट कर रहा था और उसके अगले दिन उसे स्टॉक ब्रोकर के इंटरव्यू के लिए जाना था | घर पेंट करते समय उसके हाथ पैरो पर पेंट लगा हुआ था और उसने बेकार से कपडे पहने थे | उसने बिल नहीं पाय किया था तो उसके घर पुलिस ा गयी और उसको उसी हालत में पकड़ कर ले गयी | अगले दिन उसका इंटरव्यू था | जैसे तैसे अगली सुबह क्रिस पुलिस से छूटा और पैदल भागता हुआ उसी हालत में इंटरव्यू देने चला गया |

इतनी बड़ी कम्पनी सब लोग हैरान थे क्योंकि ऐसी हालत में आज तक उस कम्पनी में कोई नहीं आया था | इंटरव्यू में उसने बोलै की सर मै  आधे घंटे से बाहर बैठा हूँ और सोच रहा हूँ की ऐसी क्या कहानी बनाऊं जिससे आपको बता सकूँ की मै ऐसी हालत में क्यों आया हूँ | पर ऐसी कोई कहानी नहीं है मेरे पास और उसने सच बता दिया की मै पुलिस स्टेशन से सीधा आया हूँ | क्रिस इंटरव्यू में ऑलमोस्ट फ़ैल था पर क्रिस ने पूछा की क्या ,मै कुछ बोल सकता हूँ | इंटरविएवेर ने कहा हाँ बोलो,मै  इस तरह का इंसान हूँ जिससे आप कोई भी सवाल पूछेंगे और मुझपे कोई जवाब नहीं होगा तो मै सच ही बोलूंगा की मुझपर कोई जवाब नहीं है पर उसका जवाब कहीं से भी ढूंढ कर लाऊंगा | क्या ये काफी नहीं है ?

थोड़ी देर के लिए सब चुप हो गए फिर सन्नाटा टूटा और क्रिस इंटरव्यू में  पास हो गया | पर अभी बुरा वक्त खत्म नहीं हुआ था क्योंकि छः महीने तक उसे इंटर्न की तरह काम करना था | शुरू के दो महीने क्रिस को कोई सैलरी नहीं मिलने वाली थी फिर उससे पूछा गया की वह तैयार है | तब क्रिस ने फाइनल जवाब नहीं दिया और वहां से चला गया | उदास मन से क्रिस अपने पड़ोस में दोस्त के पास गया जिस दोस्त को क्रिस ने उधार पैसे दिए हुए थे |पर उसके दोस्त ने उसको पैसे वापस नहीं दिए और दरवाज़ा लगा लिया | क्रिस बहुत गिड़गिड़ाया की उसको उसके पैसे वापस दे दो |

अगले दिन क्रिस को उस जॉब के लिए हाँ कहना पड़ा | और अपने बच्चे को क्रिस जब स्कूल से लेकर शाम को घर पहुंचा तब माकन मालिक ने उसका सारा सामान बहार निकाल दिया था | क्रिस बाहर खड़े होकर चिल्लाता रहा की वह पैसे चूका देगा | उसके साथ छोटा बच्चा है उसे घर से मत निकालो,इतनी रात को वह कहाँ जायेगा | मकान मालिक ने कोई जवाब नहीं दिया फिर क्रिस अपने पड़ोस वाले दोस्त के पास गया और मदद के लिए दरवाज़ा खटखटाया | लेकिन दोस्त ने गेट नहीं खोला क्रिस ने बोला,मुझे रात को रहने के लिए जगह चाहिए घर का किराया भी देना है |

बहुत रात हो गयी उसके दोस्त ने उसकी कोई मदद नहीं की और पैसों के लिए भी इंकार कर दिया | काफी देर बाद उसके 5 साल के बच्चे ने पूछा की पापा अब हम कहाँ जायेंगे पर क्रिस ने कोई जवाब नहीं दिया और सामने एक पब्लिक टॉयलेट देख क्रिस अपने बच्चे को लेकर चला गया और अंदर से टॉयलेट को बंद कर लिया | क्रिस ने अपने बच्चे को गोद  में लेकर सुला लिया और आँखों में आंसूं लिए खुद रात भर जागता रहा | क्रिस के लिए अब तक का सबसे बुरा वक्त शायद यही था | अगले दिन सुबह अपने बेटे को स्कूल छोड़कर क्रिस अपने ऑफिस पहुंचा |

उसने ऑफिस में ये दो महीनों तक काफी कुछ झेला | एक दिन उसके पास कॉल आया की किसी को एक स्कैनर चाहिए पर पहले स्कैनर को रिपेयर कराने की जरूरत थी पर क्रिस के पास पैसे नहीं थे इसलिए क्रिस ने उस दिन अपना एक बोतल ब्लड भी बेचा और ब्लड बेचकर उसने अपना खर्चा चलाया | बाकी लोग ऑफिस में 7 बजे तक रुकते थे पर क्रिस को अपना काम 5 बजे तक खत्म करना होता था | क्योंकि उसका बच्चा आखिर स्कूल में कितनी देर तक रहता फिर रात को सोने के लिए चर्च के बहार उन्हें लाइन में भी लगना  पड़ता था |

क्रिस ने सबसे ज्यादा क्लाइंट बनाये और स्टॉक ब्रोकर के लिए उसको जॉब मिल गयी | किसी ने उससे पूछा की क्या यह सब आसान था | तब क्रिस की आँखे भर आयी और खुद को सँभालते हुए कहा नहीं सर यह बिलकुल भी आसान नहीं था | इस जॉब के बाद क्रिस ने फिर कभी पलट कर नहीं देखा और एक वक्त आया की उसने अपनी खुद की इन्वेस्टमेंट कम्पनी शुरू की और कुछ ही साल बाद उस कम्पनी ने मल्टी मिलियन डॉलर्स में बेचा |

यह हैं आज के एक मल्टी मिलियनेयर क्रिस गार्डनर इनकी सफलता लोगो को इतना मोटीवेट करती है की इनके ऊपर एक फिल्म भी बनी है | फिल्म का नाम है “THE PURSUIT OF HAPPYNESS”

Image result for chris gardner

दोस्तों आपको हमारी कहानी कैसी आप हमे जरूर बताइये कमेंट के जरिये |

About the author

Asif Khan

Hey, My Name is Asif Khan i'm Blogger by Choice. I write about Health, Fitness, Internet and Tech.

Leave a Comment