Republic Day Shayari 2019

Republic Day Shayari

26 जनवरी का दिन भारत के लिए महत्वपूर्ण है न सिर्फ इसलिए कि इसे गणतंत्र दिवस के रूप में मनाया जाता है। लाहौर कांग्रेस ने 31 दिसंबर 1929 को भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस (INC) की रावी नदी के तट पर बुलाई गई, पूर्णा स्वराज को स्वतंत्रता संग्राम के लक्ष्य के रूप में स्वीकार किया और हर साल 26 जनवरी को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाने का निर्णय लिया।

Image result for 26 january per shayari in hindi

इसलिए आज हम आप सभी के लिए गणतंत्र दिवस के ऊपर शायरी लाये हैं अगर आप अपने परिवार वालो से दूर रहते हैं, और आपके बचपन के दोस्त आपसे दूर रहते हैं तो आप सोशल मीडिया की मदद से गणतंत्र दिवस की शेरो शायरी को शेयर कर सकते हैं|

1-आओ झुककर सलाम करें उन्हें जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है|,
खुशनसीब होता है वो खून जो देश के काम आता है।
जय हिन्द जय भारत। गणतंत्र दिवस की शुभकामनाएं ||

2-दे सलामी इस तिरंगे को
जिस से तेरी शान हैं,
सर हमेशा ऊँचा रखना इसका
जब तक दिल में जान हैं..!!
जय हिन्द, जय भारत

3-अलग है भाषा, धर्म जात,
और प्रांत, भेष, परिवेश,
पर हम सब का एक ही गौरव है,
राष्ट्रध्वज तिरंगा श्रेठ

4-इंडियन होने पर करिये गर्व,
मिलकर मनाएं लोकतंत्र का पर्व,
देश के दुश्मनों को मिलकर हराओ,
हर घर पर तिरंगा लहराओ|

5-लहराएगा तिरंगा अब सारे आस्मां पर
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर
ले लेंगे उसकी जान या खेलेंगे अपनी जान पर
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिन्दुस्तान पर

6-संस्कार, संस्कृति और शान मिले,
ऐसे हिन्दू, मुस्लिम और हिंदुस्तान मिले,
रहे हम सब ऐसे मिल-झुल कर,
मंदिर में अल्लाह और मस्जिद में भगवान मिले।
गणतंत्र दिवस की हार्दिक बधाई।

7-याद रखेंगे वीरो तुमको हरदम,
यह बलिदान तुम्हारा है,
हमको तो है जान से प्यारा यह गणतंत्र हमारा है

8-इतनी सी बात हवाओं को बताये रखना,
रौशनी होगी चिरागों को जलाये रखना,
लहू देकर की है जिसकी हिफाजत हमने,
ऐसे तिरंगे को सदा अपने दिल में बसाये रखना||
|| गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें |

9-ना जियो धर्म के नाम पर ना मरो धर्म के नाम पर
इंसानियत ही है धर्म वतन का बस जियो वतन के नाम

10-ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा,
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा,
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए,
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये।

11-देश भक्तो की बलिदान से
स्वतंत्रा हुए है हम
कोई पूछे कोन हो
तो गर्व से कहेंगे
भारतीय है हम

12-जमाने भर में मिलते हैं आशिक कई,
मगर वतन से खूबसूरत कोई सनम नही होता,
नोटों में लिपट कर सोने में सिमटकर मरे हैं कई,
मगर तिरंगे से खूबसूरत कोई कफ़न नही होता||

13-ज़माने भर में मिलते है आशिक कई
मगर वतन से खुबसूरत कोई सनम नहीं होता
नोटों में भी लिपट कर सोने में भी सिमट कर मरे हे कई
मगर तिरंगे से खुबसूरत कोई कफ़न नहीं होता

14-भूख, गरीबी, लाचारी को, इस धरती से आज मिटायें,
भारत के भारतवासी को, उसके सब अधिकार दिलायें
आओ सब मिलकर नये रूप में गणतंत्र मनायें ।
गणतंत्र दिवस की हार्दिक शुभकामनायें ।

15-कुछ नशा तिरंगे की आन है
कुछ नशा मातृभूमि की शान का है
हम लहराएँगे हर जगह ये तिरंगा
नशा ये हिंदुस्तान की शान का है

16-वो शमा जो काम आये अंजुमन के लिए,
वो जज्बा जो कुर्बान हो जाये वतन के लिए,
रखते है हम वो हौसले भी जो मर मिटे हिंदुस्तान के लिए||
|| हैप्पी रिपब्लिक डे ||

17-सत्ता अगर बुरे लोगों के हाथों की कठपुतली बन जाए,
तो लोकत्रंत्र एक मजाक बनकर रह जाता है.
कमजोर लोकतंत्र, जनता के दुखों का कारण होता है.

18-तिरंगा हमारा हैं शान-ए-ज़िन्दगी,
वतन परस्ती हैं वफ़ा-ए-ज़मी,
देश के लिए मर मिटना कबूल हैं हमे,
अखण्ड भारत के स्वप्न का जूनून हैं हमे।

19-चलो फिर से खुद को जगाते हैं
अनुशासन का डंडा फिर घुमाते हैं
याद करें उन शूरवीरों को क़ुरबानी
जिनके कारण हम इस लोकतंत्र का आनंद उठाते हैं

20-मैं इसका हनुमान हूँ ,
ये देश मेरा राम है ,
छाती चीर के देख लो,
अन्दर बैठा हिन्दुस्तान है||

21-देश से बढ़कर न धर्म है, न जाति,
न भाषा, न राज्य, भारत भूमि में
हीं हमने जन्म पाया है.
और इसी धरती पर हमारा पालन-पोषण हुआ है|

22-लहराएगा तिरंगा अब सारे आस्मां पर,
भारत का नाम होगा सब की जुबान पर,
ले लेंगे उसकी जान या दे देंगे अपनी जान,
कोई जो उठाएगा आँख हमारे हिंदुस्तान पर।

23-वतन हमारा ऐसा कोई न छोड़ पाये,
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये,
दिल एक है एक है जान हमारी,
हिंदुस्तान हमारा है हम इसकी शान है

24-आज़ादी की कभी शाम नहीं होने देंगे,
शहीदों की कुर्बानी बदनाम नहीं होने देंगे,
बची हो जो एक बूँद गरम लहू की,
तब तक भारत माता का आँचल नीलाम नहीं होने देंगे||

25-किसी देश के संविधान में समय
के साथ जब सुधार नहीं किए जाते हैं,
तब उस देश में लोकतान्त्रिक
मूल्यों का हनन होने लगता है|

26-ऐ मेरे वतन के लोगों तुम खूब लगा लो नारा,
ये शुभ दिन है हम सब का लहरा लो तिरंगा प्यारा,
पर मत भूलो सीमा पर वीरों ने है प्राण गँवाए,
कुछ याद उन्हें भी कर लो जो लौट के घर न आये।

27-नहीं सिर्फ जश्न मनाना, नहीं सिर्फ झंडे लहराना,
ये काफी नहीं है वतन पर, यादों को नहीं भुलाना,
जो कुर्बान हुए उनके लफ़्ज़ों को आगे बढ़ाना,
खुदा के लिए नही ज़िन्दगी वतन के लिए लुटाना,
हम लाएं है तूफ़ान से कश्ती निकाल के,
इस देश को रखना मेरे बच्चों संभाल के

28-आज सलाम है उन वीरो को
जिनके कारण ये दिन आता है|
वो माँ खुशनसीब होती है,
बलिदान जिनके बच्चों का देश के काम आता है..

29-जागरूक जनता हीं लोकतंत्र में
अपने कर्तव्यों को खुद निभाती है,
और जनता के द्वारा निभाए गए
कर्तव्य हीं जनता के अधिकारों की रक्षा करते हैं|

30-वतन हमारा ऐसा कोई ना छोड पाये ,
रिश्ता हमारा ऐसा कोई न तोड़ पाये ,
दिल एक है जान एक है हमारी ,
हिन्दुस्तान हमारा है यह शान हैं हमारी।

31-भारत के गणतंत्र का, सारे जग में मान,
दशकों से खिल रही, उसकी अद्भुत शान,
सब धर्मो को देकर मान रचा गया इतिहास का,
इसलिए हर देशवासी को इसमें है विश्वास

32-वतन हमारा ऐसे ना छोड़ पाए कोई,
रिश्ता हमारा ऐसे ना तोड़ पाए कोई,
दिल हमारा एक है एक है हमारी जान.
हिन्दुस्तान हमारा है हम है इसकी शान

33-तैरना है तो समंदर में तैरो,
नदी और नैहरो में क्या रखा है,
प्यार में मरना है तो वतन पे मरो,
वतन पे मरोगे तो नाम होगा,
किसी और के प्यार में मरोगे तो नाम बदनाम होगा||

34-आओ झुक कर सलाम करे उनको,
जिनके हिस्से में ये मुकाम आता है,
खुशनसीब होता है वो खून
जो देश के काम आता है…..!

35-आज़ादी का जोश कभी कम ना होने देंगे
जब भी ज़रूरत पड़ेगी देश के लिए जान लुटा देंगे
क्योंकि भारत हमारा देश है
अब दोबारा इस पर कोई आंच ना आने देंगे|

Happy Republic Day 2019 

About the author

Asif Khan

Hey, My Name is Asif Khan i'm Blogger by Choice. I write about Health, Fitness, Internet and Tech.

Leave a Comment