Sad Shayari in Hindi

दोस्तों आज हम आपके लिए यानी उन लोगों के लिए sad शायरी लेकर आएं हैं जो लोग बहुत ही दुखी रहते हैं। कई बार हमारी लाइफ में कई बार ऐसे मोड़ आ जाते हैं, जब हम अपने आप को अकेला और उदास महसूस करते हैं। कभी किसी से बिछड़ने का दुख, कभी कुछ हारने के दुख, कभी किसी की याद का दुख, कुछ ना कुछ दुख हम हमेशा झेलते रहते हैं। ऐसा तब होता है जब हम किसी पर पूरा भरोसा करते है और वो हमें धोखा देता हैं। अक्सर प्यार में इन्सान को धोखा मिलता है, और वो उदास रहने लगता हैं। कई बार तो हम परेशान भी हो जाते है और सोच में पड़ जाते हैं की आख़िर सारे दुख हमे ही क्यों मिलते है? लेकिन क्या आप जानते है कि दुनिया मे कोई भी व्यक्ति ऐसा नहीं है जिसके पास कोई दुख ना हो। हालांकि ये अलग बात है कि कुछ लोग अपने दुख को लेकर सोच में पड़े रहते हैं और खुद को और दुखी कर लेते हैं।  ऐसे समय मे हम अपने दिल की बात और तकलीफ़ को किसी के सामने ज़ाहिर भी नहीं कर पाते है। वहीं दूसरी तरफ़ कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो कि दुःखों से लड़ना जानते हैं, और हर समस्या हर परेशानी का एक रास्ता खोज़ निकालते हैं। ये लोग अपने एक ही दुख को लेकर नहीं बैठे रहते, बल्कि उससे लड़ने का और उसे दूर करने का प्रयास करते हैं। हमें भी इन्ही लोगो जैसे बनने का प्रयास करना चाहिए, जब हम अपने गम को किसी के साथ शेयर नहीं करते है तो उससे हमारा दुख और बढ़ता है  हमे और अधिक तकलीफ़ का सामना करना पड़ता हैं। इसीलिए कहा गया है कि ‘दुख बाँटने से कम होता है’ और ‘खुशियाँ बांटने से बढ़ती है। और अपनी परेशानियों को दूर करने का प्रयास करना चाहिए ना कि बैठकर उनका शोक मनाना चाहिए। इसीलिए आज हम आपके लिए कुछ ऐसे ही Sad Shayari in Hindi  लेकर आये हैं।,जिससे कि आप अपने दुखों को भी लोगो को समझा कर सकें।

Very Sad Shayari in Hindi for Love

Image result for sad shayari hindi

Very Sad Shayari for Life

समजने समजाने मे ही गुजर गई तू, ए जिन्दगी तूजे एकबार भी जी न पाए हम।


उदास हूँ, पर आपसे नाराज नहीं;
आपके दिल में हूँ, पर आपके पास नहीं;
झूठ कहूँ तो सब कुछ मेरे पास हैं,
और सच कहूँ, तो आपकी यादो के
सिवा कुछ भी नहीँ।


कैसे मिलेंगे हमें चाहने वाले बताइये,
दुनिया खड़ी है राह में दीवार की तरह,
वो बेवफ़ाई करके भी शर्मिंदा ना हुए,
सजाएं मिली हमें गुनहगार की तरह।


किसी की चाहत पे ज़िंदा रहने वाले हम ना थे;
किसी पर मर मिटने वाले हम ना थे;
आदत सी पड़ गयी, तुम्हे याद करने की;
वरना किसी को याद करने वाले हम ना थे।


वो चाँदनी का बदन खुशबुओं का साया है,
बहुत अजीज़ हमें है मगर पराया है,
उसे किसी की मोहब्बत का ऐतबार नहीं,
उसे ज़माने ने शायद बहुत सताया है।


भूलकर हमें अगर तुम रहते हो सलामत,
तो भूलके तुमको संभालना हमें भी आता है,
मेरी फ़ितरत में ये आदत नहीं है वरना,
तेरी तरह बदल जाना मुझे भी आता है।


उन्हें चाहना मेरी कमज़ोरी हैं;
उनसे कह नहीं पाना मेरी मज़बूरी हैं;
वो क्यों नहीं समझते मेरी खामोशी;
क्या प्यार का इज़हार करना जरुरी हैं।


अब तुम को भूल जाने की कोशिश करेंगे हम
तुम से भी हो सके तो न आना ख़याल में।


बेवफाई उसकी दिल से मिटा के आया हूँ,
ख़त भी उसके पानी में बहा के आया हूँ,
कोई पढ़ न ले उस बेवफा की यादों को,
इसलिए पानी में भी आग लगा कर आया हूँ।


काश एक दिन ऐसा भी आए;
वक़्त का पल पल थम जाए;
सामने बस तुम ही रहो;
और उमर गुज़र जाए।


अब क्यूँ तकलीफ होती है तुम्हें इस बेरुखी से,
तुम्हीं ने तो सिखाया है कि दिल कैसे जलाते हैं।


उसकी मोहब्बत का सिलसिला भी क्या अजीब था, अपना भी नही बनाया और किसी और का भी ना होने दिया।


दर्द दो तरह के होते हैं;
एक दर्द आपको दर्द देता हैं;
और दूसरा दर्द,
आपको बदल देता हैं।


काँच का तोहफा ना देना कभी,
रूठ कर लोग तोड दिया करते हैं,
जो बहुत अच्छे हो उनसे प्यार मत करना,
अकसर अच्छे लोग ही दिल तोड दिया करते है।


इश्क हमें जीना सिखा देता है,
वफा के नाम पर मरना सिखा देता है।
इश्क नहीं किया तो करके देखो जालिम,
हर दर्द सहना सीखा देता है।


जो मेरा था, वो मेरा हो ना पाया;
आँखों मे आंसू थे, पर रो ना पाया;
एक रोज़ उसने कहा, हम मिलेंगे ख्वाबो मे;
और मेरी किस्मत तो देखो, उसी रात मे सो ना पाया।


वाकिफ है हम इस दुनिया के रिवाज़ो से जब,
दिल भर जाता है तो हर कोई भुला देता है।


कभी ग़म तो कभी तन्हाई मार गयी,
कभी याद आ कर उनकी जुदाई मार गयी,
बहुत टूट कर चाहा जिसको हमने,
आखिर में उनकी ही बेवफाई मार गयी।


जान से ज्यादा प्यार उन्हें किया करते थे;
याद उन्हें दिन रात किया करते थे;
अब उन राहों से गुज़रा नहीं जाता;
जहाँ बैठकर उनका इंतजार किया करते थे।


दर्द का एहसास जानना है तो प्यार करके देखो,
अपनी आँखों में किसी को उतार कर देखो,
चोट उनको लगेगी आँसू तुम्हें आ जायेंगे,
ये एहसास जानना हो तो दिल हार कर देखो।


टूटे हुए दिल ने भी उसके लिए दुआ मांगी,
मेरी साँसों ने हर पल उसकी ख़ुशी मांगी,
न जाने कैसी दिल्लगी थी उस बेवफा से,
कि मैंने आखिरी ख्वाहिश में भी उसकी वफ़ा मांगी।


निकले जब आँसू उसकी आँखों से;
तो दिल करता है, दुनिया जला दूँ;
फिर सोचता हूँ, होंगे दुनिया मे उसके कुछ अपने;
कहीं अंजाने में उसे दोबारा ना रुला दूँ।


Image result for sad shayari hindi

Very Sad Shayari in Hindi for GF/BF

अब क्यूँ तकलीफ होती है तुम्हें इस बेरुखी से,
तुम्हीं ने तो सिखाया है कि दिल कैसे जलाते हैं


मोहब्बत के भी कुछ अंदाज़ होते हैं,
जगती आँखों के भी कुछ ख्वाब होते हैं,
जरुरी नहीं के ग़म में आँसू ही निकले,
मुस्कुराती आँखों में भी शैलाब होते हैं।


तरसते थे वो हमसे मिलने को कभी;
आज वो मेरी परछाई से कतराते हैं;
हम भी वहीँ हैं, दिल भी वहीँ हैं;
जाने कैसे यूँ लोग बदल जाते हैं।


बिछड़ के हम से फिर किसी के भी न हो सकोगे,
तुम मिलोगे सब से मगर हमारी ही तलाश में।


मुझे इश्क है बस तुमसे नाम बेवफा मत देना,
गैर जान कर मुझे इल्जाम बेवजह मत देना,
जो दिया है तुमने वो दर्द हम सह लेंगे मगर,
किसी और को अपने प्यार की सजा मत देना ।


पाया तुम्हे तो सपने सच लगने लगे;
तुम अज़नबी आज अपने लगने लगे;
होता नहीं यकीं खुद की किस्मत पर;
तुम मेरी धड़कन मे बसने लगे।


बर्बाद कर गए वो ज़िंदगी प्यार के नाम से,
बेवफाई ही मिली हमें सिर्फ वफ़ा के नाम से,
ज़ख़्म ही ज़ख़्म दिए उस ने दवा के नाम से,
आसमान रो पड़ा मेरी मोहब्बत के अंजाम से।


दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता;
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता;
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में;
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता


मोहब्बत का इशारा याद रहता है;
हर प्यार को अपना प्यार याद रहता है;
दो पल जो गुज़रे प्यार की बाहों मे;
मौत तक वो नज़ारा याद रहता हैं।


सिर्फ चेहरे की उदासी से
भर आये तेरी आँखों में आँसू,
मेरे दिल का क्या आलम है
ये तो तू अभी जानता नहीं।


तेरे प्यार का सिला हर हाल में देंगे,
खुदा भी मांगे ये दिल तो टाल देंगे,
अगर दिल ने कहा तुम बेवफ़ा हो,
तो इस दिल को भी सीने से निकाल देंगे।


कभी अपनों को भूलाना ना आया;
किसी के दिल को दुखाना ना आया;
दुसरो की याद में तड़फन्ना तो सिख लिया;
अपनी यादो में किसी को तड़फ़ाना ना आया।


जो कहता था कि तुम्हारे अलावा,
मेरे दिल में किसी के लिए जगह नहीं
आज उसी के दिल में..
कुम्भ का मेला लगा हुआ है जी।


दिल में हर राज़ दबा कर रखते है,
होंटो पर मुस्कुराहट सजाकर रखते है,
ये दुनिया सिर्फ खुशी में साथ देती है,
इसलिए हम अपने आँसुओ को छुपा कर रखते है।


वादा हमने किया है, निभाने के लिए;
एक दिल दिया है, एक दिल को पाने के लिए;
पहले तो उन्होंने दिल चुरा लिया;
फिर कहा, मोहब्बत की थी सिर्फ तुम्हे तड़फ़ाने के लिए।


जिनकी आंखें आंसू से नम नहीं,
क्या समझते हो उसे कोई गम नहीं,
तुम तड़प कर रो दिये तो क्या हुआ,
गम छुपा के हंसने वाले भी कम नहीं।


हँसी ने लबों पे थिरकना छोड़ दिया है,
ख्वाबों ने पलकों पे आना छोड़ दिया है,
नही आती अब तो हिचकियाँ भी,
शायद आप ने भी याद करना छोड़ दिया है।


फलक में अपनी जनन्तो के सितारे नहीं;
हम उनके है, पर वो हमारे नहीं;
छोटी सी नाव लेकर, उस समुंदर में उतर गए;
जिसमे दूर-दूर तक किनारे नहीं।


बिन बात के ही रूठने की आदत है,
किसी अपने का साथ पाने की चाहत है,
आप खुश रहें.. मेरा क्या है..
मैं तो आइना हूँ, मुझे तो टूटने की आदत है।


उन्होंने हमें आजमाकर देख लिया,
इक धोखा हमने भी खा कर देख लिया.
क्या हुआ हम हुए जो उदास,
उन्होंने तो अपना दिल बहला के देख लिया।


डूब जाऊ सुमन्द्र मे, तो प्यास ना रहे;
ये साँस थम जाये, तो आस ना रहे;
ख़ुशी मिले ज़िन्दगी में सबको इस कदर कि;
किसी को हमारी कमी का एहसास ना रहे।


तुम्हारी याद के साए मेरे दिल के अँधेरे में,
बहुत तकलीफ देते हैं मुझे जीने नहीं देते,
अकेली राह में हमराह कोई मिल तो जाता है,
मगर कुछ दर्द हैं जो दिल बहलने नहीं देते।


दिल से रोये मगर होंठो से मुस्कुरा बेठे,
यूँ ही हम किसी से वफ़ा निभा बेठे,
वो हमे एक लम्हा न दे पाए अपने प्यार का,
और हम उनके लिये जिंदगी लुटा बेठे।


यादो में कभी आप खोये होंगे;
खुली आँखो से कभी आप भी रोये होंगे;
माना हमे आदत हैं, गम छुपाने की;
पर हँसते हुए कभी आप भी रोये होंगे।


दर्द ही सही मेरे इश्क़ का इनाम तो आया,
खाली ही सही होठों तक जाम तो आया,
मैं हूँ बेवफा सबको बताया उसने,
यूँ ही सही चलो उसके लबों पर मेरा नाम तो आया।


उदास ना होना अगर मुलाक़ात ना हो;
ख़फ़ा ना होना अगर आपसे बात ना हो;
खुदा करे ज़िन्दगी खुशियों से सजे आपकी;
भुला लेना उस वक़्त जब आपकी दिन से रात ना हो।


मोहब्बत तो जीने का नाम है,
मोहब्बत तो यूँ ही बदनाम है,
एक बार मोहब्बत करके तो देखो,
मोहब्बत हर दर्द पीने का नाम है।


ज़िन्दगी है नादान इसलिए चुप हूँ
दर्द ही दर्द है, सुबह- शाम इसलिए चुप हूँ।
कह दु ज़माने से दास्तान अपनी,
उसमे आया तेरा नाम इसलिए चुप हूँ।


याद आती है तो ज़रा खो जाते हैं;
आँसू आँखों मे उतार आए तो रो जाते हैं;
नींद तो आती नही आँखो में;
लेकिन ख्वाब में आप आओगे, सोचकर सो जाते हैं।


कोई खुशियों की चाह में रोया,
कोई दुखों की पनाह में रोया,
अजीब सिलसिला हैं ये ज़िंदगी का..
कोई भरोसे के लिए रोया,
कोई भरोसा कर के रोया।


खुदा करे कोई इश्क़ का शिकार ना हो;
जुदा अपने प्यार से कोई प्यार ना हो;
मैं उसके बिना ज़िंदगी गुज़ार दूँ;
बेशर्ते उसको किसी से प्यार ना हो।


आज आसमान के तारों ने मुझे पूछ लिया,
क्या तुम्हें अब भी इंतज़ार है उसके लौट आने का।
मैंने मुस्कुराकर कहा,
तुम लौट आने की बात करते हो,
मुझे तो अब भी यकीन नहीं उसके जाने का।


टूटे हुए ग्लास में कभी जाम नहीं आता;
ऐ-दिल तोड़ने वाले सोच ज़रा; टुटा हुआ दिल किसी के काम नहीं आता।


उसके चेहरे पर इस क़दर नूर था,
कि उसकी याद में रोना भी मंज़ूर था,
बेवफा भी नहीं कह सकते उसको ज़ालिम,
प्यार तो हमने किया है वो तो बेक़सूर था।


चाह थी हर खुशी नसीब हो;
हर मंज़िल दिल के करीब हो;
वाहा ख़ुदा भी क्या करे;
जहाँ इंसान ही बदनसीब हो।


तू हमसफ़र, तू हम डगर, तू हमराज, नजर आता है,
मेरी अधूरी सी जिंदगी का.. ख्वाब नजर आता है,
कैसी उदास है जिंदगी तेरे बिन हर लम्हा,
मेरे हर लम्हे में तेरा अहसास नजर आता है


हमने खोया इतना कुछ कि पाना ना आया,
प्यार कर तो लिया हमने पर जताना न आया;
आ गए थे तुम इस दिल में पहली नज़र में ही,
बस हमें ही आपके दिल में समाना न आया।


क्या वजह होगी, अब फिर यहां लौट आने की..
इन नुक्कड़ों पे रुकने की, इन गलियों के चक्कर लगाने की..
अब तो ना तू मेरी है, ना ही अब ये शहर मेरा..
ना इच्छा अब कुछ सुनने की और ना ही कुछ बताने की


वो जिसे समझते थे ज़िन्दगी,
मेरी धड़कनों का फरेब था;
मुझे मुस्कुराना सिखा के,
वो मेरी रूह तक रुला गए।


हर एक हसीन चेहरे में गुमान उसका था,
बसा न कोई दिल में ये मकान उसका था,
तमाम दर्द मिट गए मेरे दिल से लेकिन,
जो न मिट सका वो एक नाम उसका था।


कहते है प्यार में लोग जान तक दे देते है,
पर जो किसी को टाइम नहीं दे सकता
वो जान क्या देगा .


दर्द है दिल में पर इसका एहसास नहीं होता,
रोता है दिल जब वो पास नहीं होता,
बर्बाद हो गए हम उसके प्यार में,
और वो कहते हैं इस तरह प्यार नहीं होता।


हर पल यही सोचता रहा,
के कहा कमी रह गयी थी मेरी चाहत में;
उसने इतनी शिदत्त से मेरा दिल तोड़ा,
के आज तक नहीं संभल पाए।


नफरतें लाख मिलीं पर मोहब्बत न मिली,
ज़िन्दगी बीत गयी मगर राहत न मिली,
तेरी महफ़िल में हर एक को हँसता देखा,
एक मैं था जिसे हँसने की इजाज़त न मिली


हक़ीक़त जान लो जुदा होने से पहले,
मेरी सुन लो अपनी सुनाने से पहले;
ये सोच लेना भुलाने से पहले ,
बहुत रोयी हैं ये आँखें मुस्कुराने से पहले।


किसी का गम, अपना बनाने को जी करता है,
किसी को दिल में, बिठाने को जी करता है,
आज दिल को क्या हुआ, खुदा जाने,
बुझती हुई शमा, फिर जलाने को जी करता है,
आफतों ने, जर्जर कर दिया घर मेरा,
उसकी दरोदीवार, फिर सजाने को जी करता है,
एक मुद्दत गुज़री, जिसका साथ छूटा,
आज फिर, उसका साथ पाने को जी करता है!


किसी की याद दिल में आज भी है,
वो भूल गए मगर हमें प्यार आज भी है; हम खुश रहने की कोशिश तो करते हैं मगर,
अकेले में आंसू बहते आज भी हैं।

 

दोस्तों उम्मीद है आपको मेरी ये Sad Shayari in Hindi पोस्ट काफी पसंद आयी होगी। दोस्तों Comment करके जरूर बतायें। HindiDream.com

About the author

Asif Khan

Hey, My Name is Asif Khan i'm Blogger by Choice. I write about Health, Fitness, Internet and Tech.

Leave a Comment